चिल्ड्रेन्स आफ हैवेन’, कलर आफ पैराडाइज, बरन, सांग आफ स्पैरोज और मोहम्मद: द मैसेंजर आफ गाड जैसी ईरानियन फिल्मों के सर्जक और अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त निर्देशक माजिद मजीदी इन दिनों अपनी 20 अप्रैल को ईरान व भारत सहित विश्व के 34 देशों में एक साथ प्रदर्शित हो रही फिल्म ‘‘बियांड द क्लाउड्स’’ को लेकर चर्चा में हैं. माजिद मजीदी के करियर की पहली फिल्म है, जिसे उन्होंने अपने वतन ईरान से इतर देश भारत में बनाया है. माजिद मजीदी को इस बात का दुःख सताता रहा है कि भारतीय फिल्मकार भारतीय सभ्यता संस्कृति व भारतीय कहानियों से इतर कहानियों पर ही फिल्में क्यों बनाते हैं. ऐसे में उनका भारत आकर फिल्म बनाना अपने आप में एक नए इतिहास का सूत्रपात है. इस नए इतिहास का सूत्रपात भारतीय फिल्म प्रोडक्शन कंपनी ‘‘नमः पिक्चर्स’’ के किशोर अरोड़ा व शरीन मंत्री केड़िया के ही प्रयासों से हो पाया.

Tags:
COMMENT