जून माह के पहले सप्ताह में प्रदर्शित नए कलाकारों की फिल्म ‘मुंज्या’ का जलवा बौक्स औफिस पर तीसरे सप्ताह भी बरकरार रहा. 20 करोड़ की लागत में बनी यह फिल्म 108 करोड़ से अधिक कमा चुकी है. जबकि जून के दूसरे सप्ताह 14 जून को प्रदर्शित 150 करोड़ की लागत में बनी कार्तिक आर्यन की फिल्म ‘चंदू चैंम्पियन’ तीसरे सप्ताह भी बौक्स औफिस पर संघर्ष करती रही. ‘चंदू चैम्पियन’ को तो उन का बड़बोलापन और उन की पीआर टीम ने डुबा दिया.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Sarita (@sarita_magazine)

जून माह के तीसरे सप्ताह यानी कि 21 जनू को एक साथ कई फिल्में सिनेमाघरों में पहुंची, मगर अफसोस हर फिल्म बौक्स औफिस पर धराशाही हो गईं. 21 जून को टिप्स कंपनी निर्मित और निपुण धर्माधिकारी निर्देशित फिल्म ‘इश्क विश्क रीबाउंड’ प्रदर्शित हुई, जो कि 2001 में प्रदर्शित टिप्स कंपनी की ही फिल्म ‘‘इष्क विष्क’’ की सिक्वअल है.2001 में शाहिद कपूर के अभिनय से सजी फिल्म ‘‘इश्क विश्क ’’ ने जबरदस्त सफलता हासिल की थी.मगर ‘इश्क विश्क रीबाउंड’ की बौक्स औफिस बड़ी दुर्गति हुई. यह फिल्म पूरे सप्ताह में 5 करोड़ रूपए भी नहीं कमा सकी.
इस में से निर्माता के हाथ में बामुश्किल दो करोड़ रूपए ही आए. यही वजह है कि अब इस के निर्माता इस की लागत तक नहीं बताना चाहते, जबकि पहले 60 करोड़ रूपए का दावा किया गया था. फिल्म ‘इश्क विश्क रीबाउंड’ में भी नए कलाकार ही हैं, मगर सभी फिल्म परिवारों की संताने हैं. इस फिल्म में मशहूर संगीतकार राजेश रोशन की बेटी और रितिक रोशन की चचेरी बहन पश्मीना रोशन, बतौर बाल कलाकार कई फिल्में कर चुके जिब्रान खान, ‘तमाशा’, ‘बरेली की बर्फी’, ‘थप्पड़’ जैसी फिल्मों में अभिनय कर चुकी नैला ग्रेवाल के साथ रोहित सराफ ने अभिनय किया है. मगर अफसोस की बात यह है कि कमजोर कहानी व पटकथा, कमजोर निर्देशन व कलाकारों का स्तरहीन अभिनय इस फिल्म को ले डूबा.
21 जून,तीसरे सप्ताह ही विवादास्पद फिल्म ‘‘हमारे बारह’’ भी प्रदर्शित हुई. अन्नू कपूर, मनोज जोषी जैसे कलाकारों के अभिनय से सजी इस फिल्म के निर्माता को अपनी फिल्म को सिनेमाघरो में पहुंचाने के लिए मुंबई हाईकोर्ट से ले कर सुप्रीम कोर्ट तक की लड़ाई लड़ी, मगर बौक्स औफिस पर यह फिल्म पूरे सप्ताह में महज 40 लाख रूपए ही एकत्र कर सकी. इस में से निर्माता के हाथ कुछ नहीं लगा. जबकि निर्माता ने करोड़ों रूपए तो इस फिल्म को सिनेमाघरों में पहुंचाने के लिए वकीलों को दे दिए. फिल्म की लागत पूरी डूब गई. इतना ही नहीं, पता नहीं किस की सलाह पर निर्माता अपनी इस फिल्म को ‘कांस फेस्टिवल’ में मार्केट सैक्शन में ले जा कर भी कई करोड़ रूपए बर्बाद कर दिए पर कोई फायदा नहीं हुआ. यह सब तो ‘क्रिमिनल वेस्टेज औफ मनी’ ही है.
इसी सप्ताह लेखक, निर्माता व निर्देशक मुनींद्र कुमार की फिल्म ‘ए स्ट्रेंजर बौय द हिल’ प्रदर्शित हुई, जिस में पूर्वी मंदादा, दिशांत गुलिया व नूरा तेंजिन जैसे नवोदित कलाकारों ने अभिनय किया है. जब हम ने यह फिल्म देखी थी, तो अति बोर हुए थे. फिल्म में ऐसा कुछ नहीं है कि इसे दर्शक देखना चाहें. फिल्म को बिना किसी प्रचार के ही निर्माता ने सिनेमाघर में रिलीज कर दिया था.
फिल्म देख कर हम ने जो सोचा था, उस से कहीं ज्यादा दुर्गति इस फिल्म की बौक्स औफिस पर हुई. यह फिल्म 7 दिन में बौक्स औफिस पर 4 लाख रूपए भी नहीं कमा सकी. इसी सप्ताह यानी कि 21 जून से ओटीटी प्लेटफौर्म पर आमीर खान के बेटे जुनैद खान की फिल्म ‘महाराज’ स्ट्रीम हो रही है. अफसोस इसे भी दर्शक नहीं मिल रहे हैं.

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

डिजिटल

(1 साल)
USD10
 
सब्सक्राइब करें

डिजिटल + 24 प्रिंट मैगजीन

(1 साल)
USD79
 
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...