सरिता विशेष

बौलीवुड में हर कलाकार सफलता की ऊंचाइयां छूना चाहता है, पर हर कलाकार के लिए सफलता के अलग अगल मापदंड हैं. कुछ कलाकार सफलता पाते ही कई तरह की महंगी गाड़ियां खरीदकर शो बाजी करते हैं कि वे कितनी  सफलता पा चुके हैं. पर ‘काई पो चे’, ‘सुल्तान’ सहित कई फिल्मों का हिस्सा रहे अभिनेता अमित साध की सोच अलग है.

वह कहते हैं-‘‘एक ही चीज को देखने का नजरिया हर किसी का अलग होता है. कुछ लोगों के लिए नयी कार, बड़ी महंगी कार खरीदना सफलता की निशानी हो सकती है. पर मेरे लिए वह सफलता नही है. मैं आज भी सेकंड हैंड कार में घूमता हूं. क्योंकि मुझे गाड़ियों का कोई शौक ही नहीं है. मुझे गाड़ियों से सख्त नफरत है. मैं तो उस दिन का इंतजार कर रहा हूं, जब हिंदुस्तान में सड़क पर से गाड़िया गायब हो जाएंगी. सिर्फ साइकल पर लोग सवारी करेंगें. मुझे तो कार के अंदर शीशे बंद करके चलने में घुटन महसूस होती है. मुझे भीड़ में रहना पसंद है.’’