पत्नी शीतल की मृत्यु के बाद बेटी श्रेया के पालनपोषण की जिम्मेदारी पराग के ऊपर आ गई थी. ऐसे में उसे गरिमा से विवाह करना पड़ा.
'सरिता' पर आप पढ़ सकते हैं 10 आर्टिकल बिलकुल फ्री , अनलिमिटेड पढ़ने के लिए Subscribe Now