फेसबुक के जरीये ना केवल ठगी हो रही है बल्कि इससे हमें भ्रामक तथ्य और जानकारियो मिलती है. ऐसे में फेसबुक कभी किताबों का विकल्प नहीं हो सकती है. ठगी से बचने के लिये जनता को ‘फेसबुक बैन के अभियान’ की तरफ जाना होगा.

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में महिला समाजसेवी अपने कामों की फोटो फेसबुक पर पोस्ट करती थी. समाजसेवी के पति डाक्टर है. ऐसे में वह खुद लोगों की मदद के लिये मेडिकल हेल्थ कैंप लगाती थी. फेसबुक के जरीये महिला समाजसेवी की जान पहचान इंग्लैंड में रहने वाले डाक्टर स्टीव से हुई. डाक्टर स्टीव ने महिला समाजसेवी से बातचीत और जानपहचान बनानी शुरू की. डाक्टर स्टीव ने खुद को कोर्डियोलौजिस्ट बताया. समाज सेवा के कामों की तारीफ करते डाक्टर स्टीव ने खुद भी समाजसेवा में जनसहयोग देने की बात कही. इसके लिये डाक्टर स्टीव ने ग्रेट ब्रिटेन की मुद्रा पाउंड और काफी कुछ विदेशी सामान दिल्ली भेजने की बात महिला समाजसेवी को बताई. इसके बाद कहा कि सामान दिल्ली कस्टम में फंस गया है.

Tags:
COMMENT