कोरोना से बच्चों को सुरक्षित रखने के लिए केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड और अनेक राज्यों के शिक्षा बोर्ड द्वारा आयोजित 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं रद्द करने के फैसले के बाद मीडिया में यह खबर जोर शोर से चल रही है कि यह सरकार द्वारा उठाया गया एक सराहनीय कदम है और इससे छात्र राहत महसूस कर रहे हैं, वहीँ अभिभावक इस बात से सुकून में हैं कि उनका बच्चा कोरोना संक्रमण से बचा रहेगा.

Tags:
COMMENT