आम आदमी पार्टी के 2 विधायकों प्रकाश जारवाल और अमानतुल्ला खान ने दिल्ली के चीफ सैक्रेटरी अंशु प्रकाश को मीटिंग में आधी रात को थप्पड़ मारे थे या नहीं, उम्मीद की जानी चाहिए कि अगले विधानसभा चुनाव से पहले अदालत में इस बारे में कोई फैसला हो जाएगा.

असल फसाद आप बनाम एलजी और भाजपा है जो इस बवंडर में दब गया और बेचारे चीफ सैक्रेटरी साहब बेवजह बलि का बकरा बन गए, जिन पर आप का आरोप है कि वे आम लोगों के हितों से जुड़े सवालों व बातों पर गौर ही नहीं कर रहे थे.

COMMENT