अभिनेता गोविंदा अपने कैरियर की ढलान पर हैं. सालों से कोई सफल फिल्म देने में असफल रहे गोविंदा ने अपने होम प्रोडक्शन में ‘आ गया हीरो’ फिल्म से बतौर सोलो हीरो वापसी की तो यह फिल्म भी बुरी तरह से पिट गई. अब उन्हें अपने कैरियर को ले कर नई रणनीति बनाने की जरूरत है. एक समय में वे भले ही स्टार थे, उन की तूती बोलती थी, पर अब समय पूरी तरह से बदल चुका है. अब उन का कड़ा मुकाबला ऊर्जावान कलाकारों से है. ऐसे में गोविंदा अपनी पुरानी अदाओं व घिसेपिटे फार्मूलों पर आधारित फिल्मों की बदौलत दोबारा स्टारडम हासिल कर पाएंगे, बहुत मुश्किल लगता है.

COMMENT