बिहार के 22 जिलों समेत देश के सभी राज्यों के कुल 678 जिलों में नोटबंदी से पहले जमीनें खरीद कर काले धन के खिलाफ शोर मचाने वाली भारतीय जनता पार्टी खुद ही काले धन के मकड़जाल में फंस चुकी है. भाजपा के जिला दफ्तरों के लिए जमीन खरीदने में भाजपा चारों ओर से घिर चुकी है. भाजपा के इस फर्जीवाड़े का खुलासा बिहार में हुआ और अब देश के दूसरे राज्यों में भी इस की परत दर परत खुलने लगी है.  जनता दल (यूनाइटेड) ने भाजपा पर आरोप लगाया है कि जमीन खरीद में न केवल फर्जीवाड़ा किया गया है, बल्कि 6 जिलों में नकद भुगतान किया गया है.

COMMENT