आज अधिकतर लोग तनाव से पीड़ित हैं. खासकर के शरही क्षेत्र में रहने वाले कामगर लोगों में ये बीमारी खासतौर पर देखी जा रही है. इसके लिए लोगों का बेकार लाइफस्टाइल तो जिम्मेदार है ही, साथ में लोगों का खानपान भी एक प्रमुख कारण है. आज लोगों में जंकफूड खाने की प्रवृति अधिक हुई है. शहरी क्षेत्रों में लोगों के खानपान का ठीकाना होता नहीं है जिसके कारण उन्हें ना चाहते हुए भी जंकफूड की ओर बढ़ना पड़ता है. हाल ही की एक स्टडी में ये बात सामने आई कि जंकफूड के अधिक सेवन से लोगों में तनाव बढ़ रहा है.

अमेरिका में हुई इस स्टडी में करीब ढाई लाख लोगों को शामिल किया गया. इसमें उनके खानपान का खासा ध्यान रखा गया. स्टडी के मुताबिक जंकफूड का सेवन करने से ना सिर्फ बाइपोलर डिसऔर्डर होता है बल्कि डिप्रेशन का खतरा भी अधिक होता है.

इसके अलावा स्टडी में ये बात भी सामने आई कि अधिक मात्रा में शुगर का सेवन करने से लोगों में बाईपोलर डिसऔर्डर के होने का खतरा अधिक हो जाता है. इसपर जानकारी देते हुए स्टडी में शामिल जानकारों का कहना है कि लोगों को ख्याल रखना चाहिए कि डाइट का मानसिक सेहत पर क्या असर हो रहा है. मानसिक रूप से स्वस्थ रहने के लिए हेल्दी डाइट का होना जरूरी है.

जानकारों का मानना है कि अभी इस क्षेत्र में और अधिक शोध होना बाकी है, पर पूर्व में हुए शोधों के नतीजों की माने तो जंक फूड से डिप्रेशन का खतरा बढ़ता है.

Tags:
COMMENT