माता पिता बनने के बाद पेरैंट्स के लिए यह बड़ी चुनौती होती है कि वे अपने बढ़ते बच्चे को पौटी ट्रेनिंग कैसे दें? यह सही है कि जब बच्चा बैठने लगे तभी से उसे इस की ट्रेनिंग दी जानी चाहिए, लेकिन कई बार बच्चा पौटी पर बैठते ही रोने लगता है. ऐसे में मातापिता उसे डायपर पहना देते हैं, जिस से उस की बैक में स्किन ऐलर्जी या रैशेज हो जाते हैं, जो उस की नाजुक त्वचा के लिए ठीक नहीं होते. सही ट्रेनिंग से बच्चा खुदबखुद पौटी आने पर बता देता है.

COMMENT