माता-पिता होना चुनौतीपूर्ण है क्योंकि आपको बहुत जिम्मेदार होना होता है और अपने बच्चे के स्वास्थ्य का ख्याल रखना होता है. बच्चे के स्वास्थ्य का ख्याल रखना मुश्किल है पर उसे नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है.बच्चों की संपूर्ण स्वास्थ्य की देखभाल के साथ यह आवश्यक है कि मुंह के स्वास्थ्य काख्याल रखने पर भी ध्यान दिया जाए. हर किसी को चाहिए कि वह बच्चों के दांतों के स्वास्थ्य और हाईजीन (साफ-सफाई) की महत्ता जाने. आप भी अपने बच्चे के मुंह का अच्छा स्वास्थ्य और हाईजीन सुनिश्चित कर सकते हैं. पेश हैं कुछ महत्वपूर्ण चीजें जो आपको जानना चाहिए. जो बता रहे हैं क्लिनिकऐप्प के सीईओ,श्री सत्काम दिव्य.

बच्चे अच्छा और बुरा नहीं जानते हैं. वे किसी भी चीज को मुंह में रख सकते हैं. कई अन्य कारणों से आपके बच्चे के दांतों का स्वास्थ्य प्रभावित हो सकता है. बहुत सारे लोग बच्चों के मामले में स्वास्थ्यकर उपायों को नजरअंदाज कर देते हैं. वे समझते हैं कि पहली बार आए दांत तो गिरने ही हैं. लेकिन दांतों का ख्याल रखने से संबंधित ऐसी महत्वपूर्ण बातों को नजरअंदाज करने से दांतों ख़राब होंगे और दांतों में प्लेक और मसूड़ों की बीमारियां होंगी. कम उम्र में ही दांत खराब होने का असर यह होगा कि बाद में आने वाले दांत भी खराब या प्रभावित होंगे और भविष्य में दांतों की ढेरों समस्याएं खड़ी हो जाएंगी.

बच्चों में पाई जाने वाली दांतों की आम समस्याएं

बच्चों में पाई जाने वाली दांतों की सबसे आम समस्या डेंटल कैरीज (dental caries) की है जो दांतों की संरचना को क्षतिग्रस्त कर देता है. अगर आप चाहते हैं कि बच्चे के दांतों का क्षरण न हो और वह वह मसूड़े की बीमारियों से बचा रहे तो आपको अपने बच्चे के लिए स्वास्थ्यकर व्यवहारों का चुनाव करने की जरूरत है.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT