पतिपत्नी के अलावा स्त्रीपुरुष संबंध एक अजीब गोरखधंधा हैं और कितनी ही बार दोनों के लिए मुसीबतें खड़ी करते हैं. पहले तो इस तरह के संबंधों की शिकार केवल औरतें हुआ करती थीं, जिन्हें कुएं या पहाड़ पर नजात मिलती थी पर अब पुरुष लपेटे में आने लगे हैं और बुरी तरह फंसने लगे हैं. देश की अदालतें ऐसे मामलों से भरी हुई हैं, जिन में वयस्क, जिम्मेदार, होश में रहने वाली औरतें मासूमियत का लबादा ओढ़ कर आती हैं कि जज साहब, इस आदमी ने मुझे बहका कर मुझ से महीनों नहीं वर्षों जबरन सैक्स संबंध बनाए और अब या तो शादी नहीं कर रहा या पैसा नहीं दे रहा. इसे बलात्कार के जुर्म में जेल भेज दो.

COMMENT