देश की एक चर्चित औनलाइन शौपिंग कंपनी फ्लिपकार्ट ने पिछले दिनों 300 से 600 कर्मचारियों की छंटनी करने के संकेत दिए हैं. करीब 30 हजार कर्मचारियों वाली इस ई-कौमर्स कंपनी में छंटनी की यह प्रक्रिया आश्चर्यजनक मानी जा सकती है. इस जैसी कंपनियों के कारोबार के बल पर देश की अर्थव्यवस्था में नई जान फूंकने का सपना सरकार भी देखती रही है. पिछले 4-5 वर्षों में देश में जिस बाजार की सब से ज्यादा चर्चा रही है वह ई-कौमर्स से जुड़ा ऐसा बाजार है जिस ने आम लोगों को घर बैठे खरीदारी की सहूलियत दी. हजारों बेरोजगार युवाओं को डिलीवरीमैन से ले कर आईटी इंजीनियर और मैनेजर जैसे शानदार रोजगार भी दिए. इसी बाजार के दम पर आईआईटी और आईआईएम जैसे संस्थानों के कैंपस प्लेसमैंट में ई-कौमर्स कंपनियां पहले दिन ही टेलैंट अपने यहां खींच कर ले जा रही थीं. लेकिन इधर इन्हीं कंपनियों और आईआईटी व आईआईएम जैसे संस्थानों के बीच नौकरियों को ले कर जो खींचतान हुई है, उस ने रोजगार के इस चमकदार विकल्प की कलई खोल कर रख दी है. 

COMMENT