सब टीवी का पॉपुलर शो ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ दर्शकों का फेवरेट शो है. शो का हर कलाकार घर-घर में मशहूर है. शो में आपने देखा कि पोपटलाल के गहनों के किस्से ने गोकुलधामवासियों के साथ-साथ दर्शकों को भी परेशान कर रखा था. आखिरकार पोपटलाल के गहने गए कहां...

शो में दिखाया गया कि डिब्बा तो मिल गया लेकिन वह खाली था. बाद में गहने जेठालाल के घर से मिले वो भी बापूजी की अलमारी से. जिससे यह बात साफ हो गई कि जेठालाल ने चोरी की है ऐसे में उनके जेल जाने की पूरी तैयारी हो चुकी थी.

तो दूसरी तरफ गोकुलधामवाले भी जेठालाल को कोसने लगे थे. लेकिन तभी बापूजी ने स्टैंड लिया और जेठालाल को बचा लिया. जिस इल्जाम में जेठालाल को गिरफ्तार किया जा रहा था वो चोरी जेठा ने नहीं की थी. बता दें कि ये गहने खुद बापूजी ने ही जेठालाल से छिपाकर रखे थे.

 

दरअसल जेठा ने इन गहनों को टेबल पर खुला छोड़ दिया था. जब ये बापूजी ने देखा तो वो समझ कि वह काफी लापरवाह हो गया है. बापूजी ने डिब्बे को बंद कर दिया और गहने निकालकर अपने पास रख लिए.

 

ऐसे में जेठालाल को जब पुलिस गिरफ्तार कर रही थी तब बापूजी ने पहुंचकर जेठालाल को बचा लिया और पूरे मामले की जानकारी इंस्पेक्टर चुलबुल पांडे को दी.

 

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

सरिता डिजिटल

डिजिटल प्लान

USD4USD2
1 महीना (डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें

डिजिटल प्लान

USD48USD10
12 महीने (डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें

प्रिंट + डिजिटल प्लान

USD100USD79
12 महीने (24 प्रिंट मैगजीन+डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...