दिवाली वैसे तो खुशियों और उल्लास का पर्व है ,लेकिन आपकी इस खुशियों में कुछ प्राणी दुखी भी होते है. दिवाली में हर साल पटाखों की आवाज और धुएं से लाखों जानवर भय से पलायन कर कही छुपने का प्रयास करते रहते है. इतना ही नहीं पटाखों से निकले धुएं और आवाज से प्रदूषण का स्तर भी बढ़ जाता है, जिससे कुछ लोगों को सांस लेने में भी तकलीफ भी होने लगती है. इस तरह जहाँ ये त्यौहार आनंद का है, वही जानवरों और कुछ लोगों के लिए परेशानी को भी लाती है. कुछ बातें निम्न है, जिसे इस दिवाली पर ध्यान अवश्य रखें,

Tags:
COMMENT