बौलीवुड में हर शुक्रवार कलाकारों की तकदीर बदल जाती है. मगर शाहिद कपूर की तकदीर कम ही बदलती है. तेरह साल के अभिनय करियर में शाहिद कपूर 27 फिल्मों में अभिनय कर चुके हैं. मगर अफसोस की बात यह है कि फिल्म ‘हैदर’ को चर्चा मिली तथा ‘जब वी मेट’ और ‘आर राज कुमार’ को बाक्स आफिस पर सफलता मिल पायी. अन्यथा अब तक करियर की गति को बढ़ाने की दिशा में शाहिद कपूर का उठाया गया हर कदम गलत ही सिद्ध होता आ रहा है. यहां तक कि करण जौहर की खोज माने जाने वाली आलिया भट्ट के करियर में भी असफलता की कील शाहिद कपूर की ही वजह से गड़ी. वास्तव में ‘स्टूडेंट आफ द ईअर’ से करियर शुरू करने वाली आलिया भट्ट की हर फिल्म बाक्स आफिस पर सफलता के झंडे गाड़ रही थी. मगर ‘‘शानदार’’ में आलिया भट्ट ने शाहिद कपूर के साथ काम किया और ‘‘शानदार’’ बाक्स आफिस पर बुरी तरह से असफल हो गयी. बौलीवुड के पंडित ‘‘शानदार’’ की असफलता के लिए पूरी तरह से शाहिद कपूर को ही दोषी ठहरा रहे हैं. कुछ लोग तो यह कहने से भी नहीं चूक रहे हैं कि आलिया भट्ट के करियर को डुबाने का काम शाहिद कपूर ने किया है.

सूत्रों के अनुसार बौलीवुड के कुछ लोगों के बीच जो चर्चाएं हो रही हैं, उससे शाहिद कपूर बहुत परेशान हैं. फिलहाल, शाहिद कपूर एक तरफ विशाल भारद्वाज की फिल्म ‘‘रंगून’’ में कंगना रनोट के अलावा एक अन्य फिल्म ‘‘उड़ता पंजाब’’ में ‘जब वी मेट’ की अपनी सह कलाकार करीना कपूर के साथ अभिनय कर रहे हैं. इन दो फिल्मों की शूटिंग लगभग पूरी हो चुकी है. अब इसके बाद क्या? यह सवाल इन दिनों शाहिद कपूर को भी परेशान किए हुए हैं. सूत्र बताते हैं कि शाहिद कपूर इन दिनों एक नवोदित संघर्षरत अभिनेता की ही तरह फिल्में पाने के लिए जुगाड़ में लगे हुए हैं.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT