सवाल

मेरी उम्र 52 वर्ष है. अमूमन किशोरावस्था में लड़कियों को पिंपल्स की शिकायत होती है लेकिन तब मेरे चेहरे पर कोई पिंपल नहीं निकला. चेहरा एकदम साफसुधरा और ग्लो करता था. कभी निकलता भी था तो एकाध, वह भी अपनेआप ठीक हो जाता था. कोई निशान भी नहीं पड़ता था चेहरे पर. 50 की उम्र तक ऐसा ही चलता रहा लेकिन अब मेरे चेहरे पर पिंपल्स की भरमार है. एक्ने के निशान जाने का नाम नहीं लेते. चेहरा देखने में भद्दा लगता है. मुझे बहुत बुरा लगता है, अपनेआप को इस तरह देखने की आदत जो नहीं रही कभी. कई क्रीमें लगा चुकी हूं लेकिन एक के बाद एक पिंपल्स निकलते आ रहे हैं. मेकअप करना भी अच्छा नहीं लगता है. आप ही कोई राय दें.

जवाब

आप की परेशानी हम सम  झ रहे हैं. चेहरे पर दागधब्बे हो जाएं तो खूबसूरती कम हो जाती है. टीनएज में तो ऐसा होता है लेकिन आप की उम्र में पिंपल्स का होना दर्शा रहा है कि आप डाइट अच्छी नहीं ले रही हैं. आप के शरीर में जरूरी विटामिंस की कमी हो गई है.

विटामिन ए एक एंटी औक्सीडैंट है जो मुफ्त कणों (फ्री रैडिकल्स) से लड़ता है. यह शरीर में होने वाली सूजन को कम करता है. इस की कमी को पूरा करने के लिए टमाटर, हरीमिर्च और गाजर खानी चाहिए.

विटामिन बी 3 की कमी से भी त्वचा पर दागधब्बे और दाने होते हैं. इस के एंटीइंफ्लेमेटरी गुण एक्ने का इलाज करने में मदद करते हैं. यह त्वचा की चमक भी बढ़ाने का काम करता है. साथ ही, कीलमुंहासों को रोकने का काम भी करता है. यह चेहरे पर जमा होने वाले औयल को कम भी करता है.

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

सरिता डिजिटल

डिजिटल प्लान

USD4USD2
1 महीना (डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें

डिजिटल प्लान

USD48USD10
12 महीने (डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें

प्रिंट + डिजिटल प्लान

USD100USD79
12 महीने (24 प्रिंट मैगजीन+डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...