4 राज्यों के 18 विधानसभा क्षेत्रों में हुए उपचुनावों में भारतीय जनता पार्टी और मोदी का जादू टूटता दिखाई दिया. पिछले दिनों हुए आम चुनावों में नरेंद्र मोदी की आंधी में तमाम विपक्षी दल बह गए थे. ऐसे में इन उपचुनावों पर सब की नजरें लगी थीं. खासतौर से बिहार में, जहां सत्तारूढ़ जनता दल (यूनाइटेड) समेत राष्ट्रीय जनता दल और कांग्रेस का सफाया हो गया था. इन उपचुनावों को भाजपा की लोकप्रियता की परीक्षा के तौर पर देखा जा रहा था. बिहार, मध्य प्रदेश, कर्नाटक और पंजाब में 18 सीटों पर हुए उपचुनावों में भाजपा को लगे झटके से मोदी और भाजपा के तिलिस्म पर सवाल उठ खड़े हुए हैं. इन में बिहार की 10, मध्य प्रदेश की 3, कर्नाटक की 3 और पंजाब की 2 सीटें थीं. इस से पहले उत्तराखंड में 3 सीटों पर भाजपा चुनाव हार चुकी है.

Tags:
COMMENT