भाजपा के प्रवक्ता कमलानंद चौराहे पर मिल गए वे ‘चौराहे’ पर गोल चक्कर लगा रहे थे. मित्र कमलानंद को चक्कर लगाता देख कांग्रेस के प्रवक्ता रामानंद ने आश्चार्य से उसकी और देखा और मद्धम स्वर में कहा-मित्रवर! क्या बात है तुम चौराहे पर निरंतर चक्कर लगाए जा रहे हो, क्या बात है..

कमलानंद मुस्कुराए कहा – तुम गहरी बात नहीं समझोगे..यह एक टोटका है..

रामानंद – मित्र ! जरा खुलासा करो… मैं समझा नहीं !

कमलानंद – क्या तुम सपना चौधरी को जानते हो.

रामानंद – ( कुछ सोचते हुए ) मैं महिमा चौधरी को जानता हूं परदेश और ये मेरा घर यह तेरा घर फ्रेम महिमा चौधरी.

कमलानंद ठठाकर हंस पड़े – यार तुम्हारा आई क्यू बड़ा कमजोर है मैं महिमा नहीं सपना चौधरी की बात कर रहा हूं.

रामानंद गंभीर हो गया फिर कुछ सोचते  कुछ  बनते हुए कहा- अच्छा, मित्र तुम ही बताओ…   कौन है यह सपना चौधरी…   क्या तुम्हारी कोई खासुलखास है जो चौराहे पर चक्कर लगा टोटका कर रहे हो.

कमलानंद गंभीर थे बोले – मैं चौराहे पर चक्कर और टोटका करके मशहूर डांसर सपना चौधरी को भाजपा की राजनीति में प्रवेश के लिए बाध्य कर दूंगा.

रामानंद ने छेड़ा, – इससे क्या लाभ होगा मित्र राजनीति में सपना जाये या महिमा तुम्हें हमें क्या लाभ…..

कमलानंद बोले – लगता है तुम टीवी न्यूज़ और अखबार नहीं पढ़ते हो… अन्यथा ऐसा नहीं कहते बल्कि सपना चौधरी का नाम सुनकर स्वयं भी डांस करने लगते. सपना चौधरी एक बड़ा नाम है आज…

रामानंद मुस्कुराता कमलानंद की और तक रहा था उसके कंठ से बमुश्किल नि:सृत हुआ तो तुम्हारे टोटके का सबब क्या है ?

ये भी पढ़ें- शक: ऋतिका घर जाने से क्यों मना करती थी?

वह सब छोड़ो…कमलानंद ने रामानंद का हाथ हाथों में लेकर कहा – मित्र!आज सपना कांग्रेस और भाजपा दोनों राजनीतिक दलों को आकर्षित कर रही है दोनों ही दल चाहते हैं सपना चौधरी उसकी टिकट पर लोकसभा का चुनाव लड़े.

रामानंद की आंखें गोल – गोल घूमने लगी

अच्छा ! तो सपना चौधरी एक डांसर का इतना महत्त्व ?

कमलानंद ने कहा – और मैं और तुम मिल कर चलो सपना को राजनीति में घसीट लाते हैं अगर हमने उसे राजनीति में लाने और टिकट दिला लड़ाने मैं भूमिका अदा की तो समझो कारू का खजाना हाथ लग गया.

ओह… तो मित्र तुम इस खातिर चौराहे पर चक्कर लगाकर टोटका कर रहे हो….

रामानंद को सब कुछ समझ आ गया.

कमलानंद ने रामानंद का हाथ जोर से दाब कर कहा, – मित्र, यह सुनहरा अवसर है हम माला -माल हो जाएंगे . मेरा कहा मानो.. मैं ने सब संरजाम कर लिया है….

रामानंद मन ही मन खुश हुआ मन में खुशियों के लड्डू फूटने लगे क्योंकि वह समझ गया था कि कमलानंद इस मामले में बडा खिलाड़ी है जरूर उसे  भाजपा के किसी बड़े नेता ने इस काम में लगाया होगा….

कमलानंद ने कहा – सुनो सफलता हमारा कदम चूमने तत्पर है बस हमें आगे बढ़ना है चलो….

रामानंद चुपचाप उसके साथ हो लिया दोनों सपना चौधरी के घर पहुंचे .सपना नृत्य में निमग्न थी…उसकी डांस करामाती स्टेप देख कर रामानंद तो अवाक रह गया .

आधा घंटा नृत्य प्रैक्टिस के पश्चात सपना चौधरी कुर्सी पर पसर गई एक शख्स उसके पास अटेंशन मुंद्रा में मानो इशारे का इंतजार करता खड़ा था .

कमलानंद और रामानंद दोनों आगे बढ़े और उसकी ओर मुखातिब हुए कमलानंद ने कहा- आपसे सीक्रेट बात करनी है अमित शाह का संदेश लाया हूं आपको भाजपा…..

सपना ने कमलानंद को बीच में रोक दिया और चटकती आवाज में बोली तो मैं चुनाव लड़ू यह ऑफर लाए हो .

रामानंद मौके की तलाश में था उसने कहा – देवी ! मैं भी… कुछ कहना चाहता हूं …कांग्रेस…

अच्छा तो कांग्रेस ने भी औफर भेजा है सपना चौधरी ने कहा – मगर मैं साफ साफ कहती हूं मैं चुनाव नहीं लड़ना चाहती….

कमलानंद का मानो दिल टूट गया- इतना अच्छा औफर… आप ठुकरा रही हो….

रामानंद – स्मृति ईरानी को देखो…राज करोगी राज, सपना.

क्या मैं केंद्र में मंत्री बन सकती हूं सपना ने आचार्यवत कहा.

हां हां क्यों नहीं ! कमलानंद ने कहा.

बिल्कुल राहुल आप को मंत्रिमंडल में लेंगे. रामानंद ने कहा.

तो मैं सोचूंगी मुझे कुछ समय दो सपना चौधरी कुर्सी पर से उठ खड़ी हुई उसके हाव-भाव बदल गए .

सोचो मत… समय हाथ से निकल जाएगा रामानंद ने सपना की आंखों में आंखें डाल कर कहा अभी चलो…

ये भी पढ़ें: बीच की दीवार

सपना केंद्रीय मंत्रिमंडल का सपना देखती उठ खड़ी हुई. कमलानंद और रामानंद सपना चौधरी को लेकर अपने आलाकमान से मिलाने चल पड़े.

Tags:
COMMENT