संतान को जन्म देने के साथ ही मांबाप की जिम्मेदारियां और दायित्व बढ़ जाते हैं. बच्चे की सही परवरिश व सुरक्षा की जिम्मेदारी मातापिता की होती है. ऐसे में बच्चे की परवरिश व देखभाल में हुई जरा सी चूक बच्चे को मौत के मुंह में धकेल सकती है.

आएदिन अबोध बच्चों के बोरवैल में गिरने की घटनाएं, बंद गाड़ी में बच्चों को अकेले छोड़ कर जाने की लापरवाही से बच्चों के दम घुटने के कारण होती मौतें हैरान करती हैं कि मांबाप, जो बच्चों को इस दुनिया में लाने के लिए लाखों जतन करते हैं, वे अपने उन्हीं जिगर के टुकड़ों के प्रति इतने लापरवाह कैसे हो सकते हैं.

COMMENT