7 साल का राजीव कुछ दिनों से चुपचुप रहने लगा था. वह कहता था कि वह स्कूल नहीं जाएगा. स्कूल जाने से उस के सिर में दर्द होता है. उस की बातों को बहाना मान कर मातापिता ने जबरदस्ती उसे स्कूल भेजा पर वहां वह पढ़तालिखता नहीं था. टिफिन का खाना नहीं खाता था. मातापिता गौर कर रहे थे कि पहले की तरह वह सक्रिय व चंचल नहीं था. परेशान हो कर राजीव की मां स्कूल गई, पता चला कि वहां वह पीछे बैठ कर सोता रहता है. दोस्तों से बात तक नहीं करता.

COMMENT