‘वक्त ने किया क्या हंसी सितम, तुम रहे न तुम हम रहे न हम...’ कुछ इसी नगमे सा था वसुधा और नागेश के प्यार का फसाना.
अनलिमिटेड कहानियां आर्टिकल पढ़ने के लिए आज ही सब्सक्राइब करेंSubscribe Now