औनलाइन बैंकिंग के इस दौर में हर लेनदेन नैटवर्किंग पर टिका है. ऐसे में साइबर लुटेरे बैंकों की लेनदेन प्रक्रिया को हैक कर लाखोंकरोड़ों का चूना लगा रहे हैं. जरूरत है इन से सावधान रहने की.

अगर आप बैंक से जुड़े ज्यादातर काम मोबाइल या इंटरनैट बैंकिंग से करते हैं तो सावधान हो जाइए, क्योंकि दुनिया में ऐसे साइबर लुटेरे (हैकर्स) सक्रिय हैं जो कब और किसे कितनी बड़ी चपत लगा दें, कहा नहीं जा सकता. एक आम उपभोक्ता के लिए खतरा उतना बड़ा तो नहीं है, लेकिन बड़ी कंपनियों और खुद बैंकों की नींद इन साइबर लुटेरों की वजह से उड़ गई है.

COMMENT