दुलहन के रूप में सजीसंवरी लड़की को गोद में उठाए एक युवक पटना कलैक्ट्रेट में आया तो सभी की आंखें उस ओर उठ गईं. युवक लड़की को उठाए सधे कदमों से धीरेधीरे जिलाधीश के दफ्तर की ओर बढ़ रहा था. कुछ लोग हैरत से, तो कुछ हंसीमजाक के लहजे में खुसुरफुसुर कर रहे थे. उन्हें नजदीक से देखने पर लोगों को कुछकुछ असलियत का पता लगने लगा. दुलहन बनी लड़की के दोनों पांव खराब थे. वह चल नहीं सकती थी, इसलिए युवक उसे गोद में उठा कर चल रहा था. लड़की के चेहरे पर थोड़ी हया का भाव था पर लड़का सिर उठाए गर्व का भाव लिए कदम दर कदम बढ़ता रहा.

COMMENT