आस्ट्रेलिया की राजधानी मेलबौर्न में ट्रैफिक सिग्नलों पर अब पुरुषों के साथसाथ महिला की आकृति भी प्रदर्शित करने का प्रयोग किया गया. सड़क को पार करते समय अब वहां के 10 ट्रैफिक सिग्नलों में मैरी रौजर्स की छवि डाली गई है. करीब 6 ट्रैफिक लाइटें बदलने में 8,400 डौलर की मोटी रकम खर्च की गई. बस, फिर क्या था. अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर की गई इस पहल को ले कर हर जगह विरोध और मजाक के स्वर सुनाई देने लगे. किसी ने कहा कि इतनी मोटी रकम लाइट पर खर्चने के बजाय महिलाओं के भले के लिए खर्चे होते तो महिला समानता की बात सार्थक होती. किसी को इस बात से आपत्ति हुई कि सिग्नल में जो छवि महिला की इस्तेमाल हुई है वह काफी ओल्ड फैशंड कपड़ों में है और आज मेलबौर्न में महिलाएं ये नहीं पहनतीं. बहरहाल, हरे और लाल ट्रैफिक सिग्नलों में सिर्फ पुरुषों की आकृति को भेदभाव मान कर महिलाओं की आकृति डालने भर से यह भेदभाव दूर नहीं होने वाला. यह हास्यास्पद और निरर्थक पहल मालूम होती है.

COMMENT