घरों को डुबो के, जगमग करें

गला घोंट जैसे, दवा को कहें

ये बातें सिखाने से क्या हो गया

जंगल, जमीं और पहाड़ खो गया

बहती नदी, नहीं रुकरुक के

जीवन बचा क्या, घुटघुट के

ये हवाओं को किस ने रोका है

दिशाओं को ढक के टोका है

विज्ञान चढ़ कर चंदा पे खड़ा

डीजल के इंजन, राकेट उड़ा

लकड़ी में अब तक धुआं ही नहीं

उन्हें लगता कुछ हुआ ही नहीं

भूखा तवा, है खाली चूल्हा

मुर्दे खड़े, जिंदे पड़े

पांचतारे व्यवस्था का क्या फायदा

धड़कन ये हलचल का क्या कायदा

बिखरे अपने, बिछुड़े सपने

खाली नजारे, हल्ला मचा रे

ऐसे में घर बसाने का क्या फायदा

जंगल, जमीं जब पहाड़ खो गया

उठ ये बिरादर, जमीं को जगा

लगा ये पता, कौन धोखा है

ये हवाओं को किस ने रोका है

दिशाओं को ढक के टोका है.

– राजेंद्र तिवारी राजू     

VIDEO : ये 9 विंटर टिप्स बना देंगी आपको एक पल में जवां…नीचे देखिए ये वीडियो

ऐसे ही वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक कर SUBSCRIBE करें गृहशोभा का YouTube चैनल.     

COMMENT