दीपिका पादुकोण जब पहली बार फिल्म ‘ओम शांति ओम’ में मुख्य भूमिका के लिए चुनी गईं और उस भूमिका के लिए उन्हें पुरस्कार मिला, तो उन की खुशी का ठिकाना न रहा. पहली बार किसी पुरस्कार समारोह में भाग लेना और हाथ में ट्रौफी पकड़ना उन के लिए किसी सपने की तरह था. एक पल के लिए पूरी दुनिया उन के सामने से घूम गई. इस से पहले जब वे पढ़ती थीं, तो रात का खाना खाते समय अपने मम्मीपापा और बहन के साथ पुरस्कार वितरण समारोह टीवी पर देखा करती थीं. कभी उन्हें इस में शामिल होने का अवसर मिलेगा, उन्होंने सोचा भी नहीं था. उन्हें आज भी वह दिन याद आता है.

Tags:
COMMENT