विधानसभा चुनावों में दी जाने वाली जानकारी से यह पता चलता है कि गहनों का शौक केवल महिलाओं को ही नहीं है पुरुष नेता भी इसके शौकीन हैं और इनके पास उतने ही गहने हैं जितने कि सामान्य घर की महिला के पास भी नहीं होते हैं. यह गहने वह नहीं हैं जो नेता की पत्नी के पास हैं. नेता की पत्नी से अलग गहने नेता जी के पास हैं. वैसे तो यह शौक प्रदेश भर के नेताओं में कमोबेश एक जैसा पाया जाता है. युवा नेता भी इस शौक से अछूते नहीं हैं. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में जब हमने इस मामले की पड़ताल की तो पता चला कि यह शौक हर पार्टी के नेताओं में बराबर का है.

COMMENT