72 घंटे से अधिक तक चला समाजवादी का पार्टी हाई वोल्डेज ड्रामा अब भी खत्म नहीं हो रहा है. समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव पहली बार कमजोर पड़ते दिखे हैं. उनके लिये बेटे अखिलेश यादव को दरकिनार करना सरल नहीं है, तो भाई शिवपाल को भी छोड़ना मुश्किल काम है. ऐसे में फौरीतौर पर मुलायम ने सुलह समझौते को दिखा कर अखिलेश-शिवपाल के बीच सुलह करा दी. इस सुलह के बाद भी आपस में ‘घात-प्रतिघात’ जारी है. सुलह समझौते की तय शर्ते भी पूरी नहीं हुई है. अब मुलायम खुद कुछ भी बोलने से बच रहे हैं.

COMMENT