राजमाता विजयाराजे सिंधिया हमारी मां समान थीं. मैं उनकी पूजा करता हूं. वे हम सभी की प्रणेता थीं. वे अकेले माधवराव सिंधिया की मां नहीं थीं. दुख आने पर वे सबसे पहले आगे आती थीं. विदिशा क्षेत्र में बाढ़ आने पर मदद करने वे सबसे पहले आगे आई थीं. वसुंधरा राजे और यशोधरा राजे सिंधिया लोक नेता हैं. धार जिले के मोहनखेड़ा में आयोजित मध्यप्रदेश भाजपा की कार्यसमिति की बैठक मे उक्त उद्गार जब मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने व्यक्त किए तो उनसे चाटुकारिता की महक आ रही थी.

COMMENT