भाजपा के पितृ पुरुष लाल कृष्ण आडवाणी का मन व्यथित है और इतना है कि उन्होंने सांसद पद से इस्तीफे की पेशकश कर डाली है. बक़ौल आडवाणी ऐसी हालत में अटल जी भी नाराज होते. ऐसे हालात यानि संसद का न चलना, लेकिन हर कोई समझ रहा है कि इशारा देश की तरफ है, जहां लोग आशकाए ओढ़ कर सोते हैं और सहमे सहमे से उठते हैं.

COMMENT