सहिष्णुता का पाठ पढ़ाने वाले भजभज मंडली की असहिष्णुता भरी गुंडई की खूब आलोचना हो रही है. वाकया उत्तराखंड की राजधानी देहरादून का है, जहां धर्म के रथ पर सवार हो कर वोट मांगने वाले भजभजी मंडलियों ने अपने भगवान के रथ को खींचने वाले घोड़े की टांग तोड़ डाली. घोड़े का कुसूर इतना भर था कि उस ने एक भाजपाई को लात मार दी. फिर क्या था, गुस्से से आगबबूला मसूरी के भाजपा विधायक गणेश जोशी ने आव देखा न ताव, घोड़े की टांग पर ताबड़ेतोड़ डंडे मार कर उस का पैर तोड़ डाला. जोशी का गुस्सा तब तक शांत नहीं हुआ जब तक घोड़े की टांग न टूट गई और वह बीच सड़क पर गिर न गया.

Digital Plans
Print + Digital Plans
COMMENT