जब आपकी कोई दोस्त किसी दुख से गुजर रही है या उदास है तो आपको उनसे बात करते वक्त बहुत सी चीजों का ध्यान रखना जरूरी होता है. इस बात का विशेष रूप से आपको ध्यान रखना होगा कि आप उन्हें कोई ऐसी बात ना बोल दें जिससे उनकी भावनाओं को ठेस पहुंचें.

आपको उन्हें उस दुख से उबरने में मदद करनी चाहिए ना कि कोई ऐसी बात बोलनी चाहिए जिससे उन्हें अपने दुख से जुड़े बातों की याद आ जाए. आइए जानते हैं कि जब आपकी दोस्त दुखी हो तो आपको किन बातों की ध्यान रखने की जरूरत होती है.

किसी चीज की जरूरत हो तो मुझे बताना –  यह बात बोलना अच्छा होता है, लेकिन जब आपकी दोस्त किसी दुख में हो और अगर आप उससे ऐसा बोलेंगे कि किसी चीज की जरूरत पड़े तो मुझे बताना. वास्तव में वे ऐसा बिल्कुल भी नहीं करेंगी. ये बात बिना कहें आप अपने मित्र की सहायता के लिए आगे  बढ़े और फिर पूरी तरह से उनकी मदद करने की कोशिश करें.

आप बहुत हिम्मती हो –  जब आपकी दोस्त दुखी हो या अकेला महसूस कर रही हो, तो वैसी स्थिति में आपको ये बात बिल्कुल भी नहीं कहनी चाहिए कि तुम बहुत हिम्मती हो और तुम इस परिस्थिति का सामना बहुत आसानी से कर सकती हो. यह उनके दुख को कम करने के बजाय और बढ़ा सकता है. उन्हें इस बात का विश्वास दिलाना चाहिए कि आप उनके साथ हैं.

उसने अपनी जिंदगी को जिया – आपको यह बात कभी भी नहीं कहनी चाहिए की उसने अपनी जिंदगी जी ली थी या ये कि जिसे जब जाना होता है वो चला जाता है. यह बात उनको दुख से उबरने की जगह और दुखी कर देगा. उन्हें बार-बार उस इंसान की याद आएगी जो उनसे हमेशा के लिए दूर हो गया हो.

मैं समझ सकती हूं तुम्हे कैसा महसूस हो रहा है – जब आपका दोस्त अपने किसी करीबी को खो देते हैं तो आपको उनसे ये बात नहीं बोलनी चाहिए कि मैं तुम्हारे दुख को समझ सकती हूं क्योंकि इससे ऐसा लगेगा कि आप दिखावा कर रही हैं. ऐसा करना शायद आपके दोस्त के दुख को कम करने के बजाय और बढ़ा सकता है.

Tags:
COMMENT