55वर्ष के बाद टीम इंडिया इंगलैंड के दौरे पर 5 टैस्ट मैचों की सीरीज खेल रही है. लेकिन टीम इंडिया की सब से बड़ी मुसीबत यह है कि वह विदेशी धरती पर उछाल लेती गेंदों के आगे मात खा जाती है. वैसे भी कप्तान महेंद्र सिंह धौनी और उन के मौजूदा साथियों को लगातार 5 टैस्ट मैचों की सीरीज खेलने का अनुभव भी नहीं है. युवा खिलाडि़यों में जोश तो है लेकिन अपने खेल के प्रदर्शन को दिखाते हुए उन्हें यह साबित करना होगा कि वे विदेशी धरती पर भी लोहा मनवा सकते हैं. वर्ष 1959 में 5 टैस्टों की सीरीज की बात करें तो उस दौरान टीम इंडिया की भारी फजीहत हुई थी और उन्हें 0-5 से हार का मुंह देखना पड़ा था. अगर इंगलैंड में टैस्ट सीरीज की बात करें तो अब तक टीम इंडिया 16 टैस्ट सीरीज खेल चुकी है और उसे महज 3 में जीत हासिल हुई है और एक मैच को टीम इंडिया ड्रा कराने में कामयाब रही है.

COMMENT