आईसीसी महिला विश्व कप के दूसरे सेमीफाइनल में 20 जुलाई को भारत और ऑस्ट्रेलिया की टीमें आमने-सामने होंगी. इस सेमीफाइनल में भारतीय महिला क्रिकेट टीम इतिहास रच सकती है.

बेशक आंकड़ों के लिहाज से भारत, ऑस्ट्रेलिया से काफी पीछे है, लेकिन इस बार विश्व कप के पहले मैच में इंग्लैंड और पिछले मैच में न्यूजीलैंड पर उलटफेर करने के बाद भारत ने अपने अंदर छिपी सम्भावनाओं को उजागर किया है.

अपने शानदार प्रदर्शन के दम पर भारतीय टीम यह मैच अपने झोली में डाल सकती है. जानें आखिर क्या है ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टीम इंडिया की स्ट्रैटजी.

इसलिए जीत सकती है टीम इंडिया

भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच यह मुकाबला आज काउंटी ग्राउंड में खेला जाएगा. भारत ने 2009 विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया को आक्रामक खेल की बदौलत उसे उसी के घर में दो बार हराया था. इस बार भारत के तरकश में कई तीर हैं. महाराष्ट्र के सांगली की रहने वाली स्मृति मंधाना भारत की पहली ट्रम्प कार्ड हैं.

क्या होगी स्ट्रैटजी

भारतीय गेंदबाजी आक्रमण की धार एकता बिष्ट हैं. उनकी जगह शामिल राजेश्वरी गायकवाड़ भी पिछले मैच में कारगर रही थीं. कोच तुषार अरोठे रनों पर अंकुश लगाने के लिए लेग स्पिनर पूनम यादव के साथ बाएं हाथ की इन दोनों स्पिनरों को एक साथ उतार सकते हैं.

ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजी क्रम में बाएं हाथ की तीन खिलाड़ियों को ध्यान में रखते हुए टीम में दीप्ति शर्मा और हरमनप्रीत कौर के रूप में दो ऑफ स्पिनर हैं. विकेट के पीछे सुषमा वर्मा को पहले सेमीफाइनल में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ इंग्लैंड की विकेटकीपर सारा टेलर से सबक सीखने की जरूरत है. उनकी तेजतर्रार स्टम्पिंग से तृषा चेट्टी का स्टम्प होना मैच का बड़ा अंतर साबित हुआ था.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
COMMENT