श्रीलंका के कप्तान एंजलो मैथ्यूस ने जांच सदस्यों से मैच बुकी के संपर्क किए जाने की बात स्वीकार की है. श्रीलंका के लिए 56 टेस्ट में 4 हजार से ज्यादा रन बना चुके मैथ्यूस को वेस्ट इंडीज़ के खिलाफ मैच हारने के लिए भारी रकम की पेशकश की गई थी.

मैथ्यूस ने मैच फिक्सिंग की जांच कर रही श्रीलंकाई पुलिस के सामने स्वीकार किया है कि उन्हें मैच फिक्स करने को कहा गया था. मैथ्यूस ने कहा, 'जांच दल के सदस्य किसी एक खिलाड़ी के बारे में जांच नहीं कर रहे हैं बल्कि खिलाड़ी से मैच फिक्सिंग के बारे में पूछताछ कर रहे हैं.' मैथ्यूस से श्रीलंकाई पुलिस ने करीब पांच घंटे से ज्यादा समय तक पूछताछ की. मैथ्यूस से पुलिस ने कुशल परेरा और रंगना हैराथ से मैच फिक्स करने के ऑफर के बारे में भी पूछा.

गॉल टेस्ट में वेस्ट इंडीज़ के खिलाफ मैच में परेरा और हैराथ ने मैच फिक्स करने के ऑफर को ठुकरा दिया था. बाद में यह मैच श्रीलंका ने पारी और छह रन से जीता जिसमें हैराथ ने 10 विकेट लिए थे. मैथ्यूस ने साफ किया कि खिलाड़ियों ने खुद फिक्सिंग के बारे में बताया है. हालांकि श्रीलंका के खेल मंत्री दयाश्री जयासेकरा ने पुलिस में केस दर्ज किया जिसके बाद मामले में कार्रवाई शुरू हुई है.

सोमवार को श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने मैच फिक्सिंग के लिए एक घरेलू खिलाड़ी को उकसाने के आरोप में गेंदबाजी कोच अनुषा समारनायके को 4 महीने के लिए सस्पेंड कर दिया है. फिक्सिंग को लेकर क्रिकेट में लगातार सवाल उठते रहे हैं और आईसीसी भी फिक्सिंग को लेकर सख्त हो गई है.

Tags:
COMMENT