खिलाडि़यों को संसद के दोनों सदनों में विभिन्न दलों द्वारा भेजा जाता रहा है. केंद्र सरकार की सलाह पर राष्ट्रपति खेल, कला, विज्ञान और समाजसेवा जैसे क्षेत्रों से चुने गए लोगों को राज्यसभा के सदस्य के तौर पर मनोनीत करते हैं.

मोदी सरकार ने पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू और मुक्केबाज मैरी कौम सहित कुल 6 लोगों को संसद पहुंचा दिया. इस से पहले कांग्रेस महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर को संसद पहुंचा चुकी है. कांग्रेस ने सचिन का चयन इसलिए किया था क्योंकि महाराष्ट्र में कांग्रेस का जनाधार बढ़े. ठीक वैसे ही भाजपा ने नवजोत सिंह सिद्धू का चयन किया है ताकि पंजाब विधानसभा चुनाव में भाजपा को फायदा मिले.

COMMENT