दीवाली यानी सजनेसंवरने का पूरा मौका, तो फिर देर किस बात की, इस दीवाली पर सजें कुछ इस तरह कि सब की नजरें ठहर जाएं सिर्फ आप पर. कैसे, बता रही हैं गरिमा पंकज.

त्योहारों का मौका ऐसा समय होता है जब हम ऐथनिक और ट्रैडिशनल डै्रसेज पहनना पसंद करते हैं. नए स्टाइल मंत्रा के साथ आप इन कपड़ों में आकर्षक लुक पा सकती हैं.

साड़ी ऐसा परिधान है जो ट्रैडिशनल होने के साथसाथ आप को सब से ज्यादा गौर्जियस व सैंसुअस लुक देता है. ऐसी कई तरह की साडि़यां हैं जिन्हें इस मौके पर पहन कर आप लोगों के आकर्षण का केंद्र बन सकती हैं.

सिल्क साडि़यां : मूल रूप से तमिलनाडु में मिलने वाली, ट्रैडिशनल कांजीवरम सिल्क साडि़यां त्योहारों में बेहद चार्मिंग व ग्रेसफुल लुक देती हैं. मैसूर सिल्क साडि़यां लाइटवेट होती हैं और वे प्योर सिल्क से बनाई जाती हैं. इन के बेहतरीन टैक्सचर और जीवंत रंगों के साथ आप अपने को विशेष लुक दे सकती हैं.

चिकनकारी साडि़यां : लखनऊ की ये साडि़यां हर किसी को लुभाती हैं. पहले इन में ऐंब्रौयडरी के लिए सफेद धागों का ही प्रयोग होता था मगर आजकल विभिन्न रंगों के धागों का इस्तेमाल होने लगा है. गहरे शोख रंग वाली सीक्वेंस वर्क से सजी ये साडि़यां दीवाली के लिए परफैक्ट चौइस हैं.

बांधानी साडि़यां : सिल्क और कौटन के मिक्स फैब्रिक में मिलने वाली ये साडि़यां गुजरात और राजस्थान की खास साडि़यां हैं, टाई ऐंड डाई वर्क के साथ ब्राइट व नैचुरल कलर्स में स्टाइलिश ब्लौक पिं्रट्स वाली ये साडि़यां आर्टिस्टिक लुक लिए होती हैं. बांधानी साडि़यां कौटन, जौर्जेट, के्रप, सैटिन और सिल्क में भी मिलती हैं. जरी, ब्रोकेड व हैंड ऐंब्रौयडरी बौर्डर्स के साथ ये त्योहारों के मौकों पर जंचती हैं.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
COMMENT