गरमी का मौसम आते ही त्वचा में नमी की मात्रा कम होने लगती है. इस की वजह धूप, धूल, गरम हवा, प्रदूषण और पसीना आना है. त्वचा में नमी की मात्रा कम हो जाने से वह बेजान और रूखी हो जाती है. ऐसे में सही मात्रा में पानी पीना, संतुलित आहार लेना, सनस्क्रीन से खुद को प्रोटैक्ट करना, धूप से बचना आदि जरूरी है. ब्यूटी ऐक्सपर्ट आकृति कोचर कहती हैं कि गरमी के मौसम में त्वचा की नमी का ध्यान रखना जरूरी है वरना कई प्रकार के रैशेज, रैडनैस, ऐलर्जी आदि होने का खतरा रहता है. ऐसे में सनस्क्रीन और मौइश्चराइजर अच्छी कंपनी का ही लगाएं ताकि त्वचा सुरक्षित रहे. इन्हें घर से निकलने से 20 मिनट पहले लगाएं. कम से कम 15 एसपीएफ वाला सनस्क्रीन त्वचा के लिए अच्छा होता है. अगर आप ने सही मात्रा वाले एसपीएफ का प्रयोग त्वचा के लिए नहीं किया, तो त्वचा की उम्र आप की उम्र से अधिक दिखेगी, इसलिए ऐक्सपर्ट की राय जरूरी है. गरमी के मौसम में सैलिब्रिटीज खासतौर पर अपनी त्वचा को ले कर संवेदनशील होते हैं, क्योंकि उन्हें धूप, धूल, प्रदूषण आदि में शूटिंग करनी पड़ती है. आइए, जानें किस तरह वे गरमी का सामना करते हैं:

COMMENT