एक फेयरनैस क्रीम के विज्ञापन में ऐक्टर सिद्धार्थ मल्होत्रा ऐक्टर और फैंस के रिलेशन में आए चेंज को अच्छी तरह डिफाइन करते हुए कहते हैं कि अब फैंस औटोग्राफ नहीं सैल्फी की डिमांड करते हैं. यह हलकीफुलकी लगने वाली बात दरअसल इशारा है युवाओं के तकनीकी मिजाज और मनोरंजन के संसार को ले कर उन की बदलती अप्रोच का, आज युवा किसी अभिनेता की तसवीर दीवार पर चिपकाने के बजाय उसे अपने अलबम में चस्पां रखते हैं, ताकि वे उसे औनलाइन प्लेटफौर्म पर पोस्ट कर सैल्फ पब्लिसिटी के साथ अपने ग्रुप में ट्रेडिंग टौपिक या वायरल फैक्टर बना सकें. दिल्लीमुंबई जैसे शहरों की मैट्रो ट्रेंस हों या छोटे कसबों के नुक्कड़ पर बैठे युवा, प्रत्येक कान में इयरफोन और हाथ में बड़ी स्क्रीन वाले आईफोन

COMMENT