सरिता विशेष

स्मार्टफोन का इस्तेमाल आज हर कोई करता है. इसका इस्तेमाल बढ़ने के साथ ही साथ कई सारी दिक्कतें भी बढ़ती जा रही हैं. हम आज आपको कुछ ऐसे काम के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसका प्रयोग अक्सर ही लोग अपने स्मार्टफोन में करते हैं. यह काम कभी नहीं करने चाहिए. इससे आपके फोन को भारी नुकसान हो सकता है.

अननोन सौर्सेज से एप इंस्टौल करना

अननोन सौर्सेज से किसी भी तरह के ऐप्स इंस्टौल करने से बचें. गूगल प्ले स्टोर के अलावा किसी और जगह से कोई भी ऐप इंस्टौल करना आपके फोन के लिए खतरनाक साबित हो सकता है. वह कोई वायरस भी हो सकता है. इससे आपका डेटा भी चोरी हो सकता है.

रिसेंट ऐप्स बंद करना

अगर आप सोचते हैं कि रिसेंट ऐप्स को मेनुअली बार बार बंद करने से आपका फोन फास्ट हो जाता है, तो आप गलत हैं. ऐसा बिल्कुल भी नहीं होता है, बल्कि ऐसा करने से अगली बार जब ऐप को खोलेंगे तो वह फिर से शुरू होगी और बैटरी और प्रोसेसर पर ज्यादा लोड डालेगी.

एंटीवायरस और बैटरी सेवर

एंड्रायड फोन में एंटीवायरस की जरूरत नहीं पड़ती है. अगर आप गूगल प्ले स्टोर से ऐप्स को इंस्टौल करते हैं तो एंटीवायरस की कोई जरूरत नहीं है. यह उल्टा आपके फोन को स्लो करता है.

फोन में बैटरी सेवर को भी इंस्टौल नहीं करना चाहिए, क्योंकि यह किसी काम का नहीं होता है. यह सिर्फ ऐप्स को बंद करने का काम करता है. इससे ज्यादा कुछ असर नहीं होता.

फेक ऐप्स और फेक मैसेज

फेक ऐप्स को फोन में इंस्टौल न करें. कुछ ऐप्स दावा करती हैं कि अगर आपके फोन में फिंगर प्रिंट स्कैनर नहीं है तो ऐप से आ जाएगा. फिंगर प्रिंट स्कैनर हार्डवेयर का काम है तो सौफ्टवेयर से कैसे आ जाएगा. इस तरह का कोई भी दावा करने करने वाले ऐप्स को कतई इंस्टौल करें.

फेक मैसेज के झांसे में आकर फालतू के ऐप इंस्टौल न करें. ऐसे ऐप आपके फोन के लिए खतरनाक होते हैं. इनका कोई फायदा नहीं होता है. यह आपके फोन में वायरस लाने के साथ ही कई तरह की समस्याएं पैदा कर देती हैं.

इग्नोर ऐप परमिशन

अगर कोई भी ऐप फोन का ऐसा एक्सेस मांगे जिसे उसकी जरूरत ही न हो तो इसका इजाजत बिलकुल न दें. जैसे कि टौर्च की ऐप कौन्टेक्ट्स की परमिशन मांगती है तो उसे परमिशन न दें. इससे आपका डेटा चोरी हो सकता है.

क्लियर कैश मेमोरी

किसी भी कैश मैमोरी क्लीयर करने वाले ऐप को इंस्टौल न करें. इसका कोई फायदा नहीं होता. बल्कि नुकसान हो जाता है. अगर मैमोरी कम पड़ रही है तो या तो मैमोरी कार्ड लगाएं या फिर मेनुअली फोन की मैमोरी को खाली करें.

फोन रीस्टार्ट करें

फोन को लगातार इस्तेमाल करते रहते हैं. इसलिए फोन को ब्रेक देने के लिए उसे 5-6 दिन में एक बार रीस्टार्ट जरूर कर लें.

आप इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं