सरिता विशेष

जब भी आप अपना कार लेकर किसी लम्बे सफर पर जाते हैं तो आपको टोल टैक्स पर रुकना पड़ता है. कुछ लोगों को तो रोजाना औफिस जाते वक्त टोल प्लाजा से गुजरना होता है, ऐसे में उनका काफी समय जाता है. अगर आपके साथ भी ऐसा ही है तो आप टोल प्लाजा पर लगने वाले अपने इस किमती समय को बचा सकते हैं. इसके लिए आप ‘फास्टैग’ डिवाइस ले सकते हैं.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि एसबीआई समेत कई बड़े बैंकों के बाद पेटीएम पेमेंट्स बैंक ने भी ‘फास्टैग’ लाने की घोषणा की है. बैंक ने पूरे देश के सभी राजमार्गों पर टोल शुल्क देने को आसान बनाने और उनपर लगने वाले समय को बचाने के लिए पेटीएम फास्टैग को शुरू किया है. अगर आपकी कार पर यह फास्टैग लगा होगा, तो आप टोल प्लाजा पर बिना रुके गुजर सकेंगे.

पेटीएम पेमेंट्स बैंक की सीईओ रेणु सत्ती ने कहा, ” टोल प्लाजा में नकद भुगतान करने के दौरान आम लोगों का काफी समय बरबाद होता है. इसके अलावा लोगों को छुट्टे न होने की दिक्कत का सामना करना पड़ता है. ऐसे में पेटीएम फास्टैग उन्हें इस परेशानी से निजात दिला सकता है. इससे आम आदमी देश के किसी भी टोल प्लाजा पर कैलशलेस भुगतान कर सकेगा.”

क्या है पेटीएम फास्टैग

पेटीएम फास्टैग एक रेडियो फ्रीक्वेंसी आइ‍डेंटिफिकेशन तकनीक (आरएफआईडी) पर आधारित एक टैग है. दरअसल फास्टैग एक डिवाइसनुमान सेंसर होता है, जिसे आपको अपनी कार के विंडस्क्रीन पर लगाना होता है. यह टैग टोल प्लाजा पर लगे सेंसर से कनेक्ट होता है और अपने आप ही आपका टोल भर देता है.

खरीद सकते हैं औनलाइन

आप पेटीएम ऐप का इस्तेमाल कर फास्टैग को औनलाइन खरीद सकते हैं. पेटीएम फास्टैग का प्रयोग करने वाले ग्राहकों को प्रत्येक टोल लेनदेन में 7.5% का कैशबैक मिलेगा.

मौजूदा समय में पेटीएम पेमेंट्स बैंक नए वाहन खरीदने वाले ग्राहकों के लिए पेटीएम फास्टैग उपलब्ध कराने की खातिर कार कपंनियों और कार डीलर्स के साथ बात कर रहा है. इनमें मारुति, हुंडई, टाटा, मर्सिडीज, रेनौल्ट समेत अन्य कार कंपनियां शामिल हैं.