अगर आप ट्विटर का इस्तेमाल करते हैं तो आपके लिए एक अच्छी खबर है. दरअसल ट्विटर अकाउंट पर ब्लू टिक कुछ ही लोगों को दिया जाता है. इसे कुछ लोग स्टेट्स सिंबल भी मानते हैं. लेकिन इन दिनों आ रही खबरों के अनुसार अब कंपनी सभी के लिए इस ब्लू टिक को देने की तैयारी कर रही है. इसके लिए वेरिफाइड ब्लू टिक के लिए अप्लाई करने के लिए यूजर्स को कारण बताना होगा कि उन्हें ब्लू टिक क्यों चाहिए.

ब्लू टिक वेरिफिकेशन को कंपनी ने साल 2009 में पहली बार लौन्च किया था. शुरुआत में ब्लू टिक केवल सेलिब्रिटीज, एथलीट और पब्लिक फीगर को मिल रहा था. उसके बाद ट्विटर का ब्लू टिक सिंगिंग, एक्टिंग, फैशन, गवर्मेंट, पौलिटिक्स, धर्म, पत्रकार, मीडिया, स्पोर्ट्स, बिजनेस और दूसरे बड़े क्षेत्रों के लोगों को भी दिया जाने लगा. ट्विटर पर ब्लू टिक इस बात का सबूत होता है कि यह अकाउंट उसी व्यक्ति का या कंपनी का है जिसका नाम लिखा है. यह इस बात का सबूत है कि अकाउंट फर्जी नहीं है. इस पर आने वाली चीजें उसी व्यक्ति या कंपनी आदि द्वारा ही दी गई हैं.

ट्विटर के सीईओ जैक डौर्सी का कहना है कि कंपनी अपने ब्लू चैक मार्क वेरिफिकेशन बैज को ज्यादा से ज्यादा यूजर्स को देने की तैयारी कर रही है. माइक्रो ब्लौगिंग साइट ट्विटर इस बार नए तरीके से अकाउंट वेरिफिकेशन शुरू करने की तैयारी कर रहा है. साथ ही उन्होंने कहा कि ‘हम दुनिया का सबसे विश्वसनीय प्लेटफौर्म बनना चाहते हैं और हम जानते हैं कि इसके लिए हमें बहुत काम करने की जरूरत होगी.’

ट्विटर के मुताबिक इसके लिए एक एकाउंट वेरिफाई किया जा सकता है अगर यह सार्वजनिक हित के एक अकाउंट के रूप में निर्धारित किया गया हो. हालांकि ट्विटर के सीईओ ने इस बात का खुलासा नहीं किया कि इस वेरिफिकेशन के लिए यूजर्स को फेसबुक प्रोफइल, अपना फोन नंबर, ईमेल एड्रेस या फिर सरकार द्वारा जारी किया गया कोई फोटो पहचान पत्र आदि में से क्या देना होगा.

VIDEO : आपके लिए है ये लेटेस्ट हेयरस्टाइल

ऐसे ही वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक कर SUBSCRIBE करें गृहशोभा का YouTube चैनल.