माइक्रोसौफ्ट के शोधार्थियों ने एक कृत्रिम बुद्धिमत्ता प्रणाली (आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस) विकसित की है, जो खबरों का चीनी भाषा से अंग्रेजी में अनुवाद उतनी ही सटीकता और गुणवत्ता के साथ कर सकती है जैसा कि कोई इंसान करता है. शोधार्थियों ने कहा कि उनकी प्रणाली ने खबरों पर इंसान की तरह ही अनुवाद किया.

इसे उद्दोग और अकादमिक साझेदारों के एक समूह ने विकसित किया है. नतीजों को सटीक और मानव के कार्य के समान सुनिश्चित करने के लिए टीम ने बाहरी द्विभाषी मानव मूल्यांकनकर्ताओं को काम पर लगाया, जिन्होंने माइक्रोसौफ्ट के नतीजों की दो स्वतंत्र रूप से निर्मित ह्यूमन रेफ्रेंस अनुवादकों से तुलना की.

technology

माइक्रोसौफ्ट स्पीच, प्राकृतिक भाषा और मशीन कोशिशों के एक तकनीकी फेलो प्रभारी शुदोंग हुआंग ने इसे इस दिशा में एक मील का पत्थर बताया. मशीनी अनुवाद एक समस्या है जिस पर शोधार्थियों ने दशकों तक काम किया है और काफी समय से यह माना जाता था कि इंसान के समान यह कार्य नहीं किया जा सकता है. हालांकि, माइक्रोसाफ्ट रिसर्च एशिया के सहायक प्रबंध निदेशक मिंग झोउ ने आगाह किया कि आगे कई चुनौतियां हैं जैसे कि ‘रियल टाइम न्यूज स्टोरी’ पर प्रणाली की जांच करना आदि.

माइक्रोसौफ्ट की इस सफलता से अन्य भाषाओं में कहीं अधिक सटीक अनुवाद का रास्ता खुलेगा. झोउ ने बताया कि शोधार्थियों ने अपने अनुवाद की सटीकता को बेहतर करने के लिए दो नयी तकनीक भी विकसित की है. उन्होंने कहा कि इनका इस्तेमाल अनुवाद के अलावा भी कृत्रिम बुद्धिमत्ता के कार्यों में किया जा सकेगा.

VIDEO : ये मेकअप बदल देगी आपके चेहरे की रंगत

ऐसे ही वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक कर SUBSCRIBE करें गृहशोभा का YouTube चैनल.

Tags: