गूगल ने मई में अपना नया औपरेटिंग सिस्टम पेश कर दिया था. अब इसके असली नाम और फीचर्स का भी पता चल गया है. इस औपरेटिंग सिस्टम का नाम पाई (Pie) है. इसमें कुछ फीचर्स भी जोड़े गए हैं जो फोन में काम को और आसान कर देंगे. यह नया औपरेटिंग सिस्टम iPhone X की डिस्प्ले की तरह आने वाले स्मार्टफोन्स को भी सपोर्ट करेगा.

नोटिफिकेशन एंड स्मार्ट रिप्लाई: नोटिफिकेशन में ही अब और फीचर जोड़ दिए हैं. नए औपरेटिंग सिस्टम में स्मार्ट रिप्लाई का विकल्प दिया गया है. इसके अलावा नोटिफिकेशन में ही फोटो भी दिखाई दे जाएगी. अभी, यूजर्स को नोटिफिकेशन में मौज़ूद अटैचमेंट को देखने के लिए नोटिफेकिशन को खोलना पड़ता है.

नोच डिस्प्ले: अब काफी एंड्रायड स्मार्टफोन्स में iPhone X की तरह डिस्प्ले दी जा रही है. यह उन सभी स्मार्टफोन्स को सपोर्ट करेगा. इसमें पूरी डिस्प्ले का इस्तेमाल होगा. एंड्राइड पाई आपको डेवलपर मोड इनेबल करने के बाद यह कैसा दिख सकता है इसका एक प्रिव्यू देता है. डेवलपर औप्शन के तहत ड्राइंग सेक्शन पर नीचे स्क्रॉल करें, “कटआउट के साथ डिस्प्ले अनुकरण करें” टैप करें, फिर आकार चुनें.

औफिशियल डार्क मोड: गूगल ने अब सेटिंग्स ऐप में औफिशियल डार्क मोड को भी जोड़ दिया है. डार्क मोड के लिए पहले वॉलपेपर पर भरोसा करने के बजाय, यूजर्स अब तय कर सकते हैं कि हमेशा डार्क मोड, लाइट मोड का उपयोग करना है या फोन को स्वयं तय करना है या नहीं.

स्क्रीन शाट्स: नए एंड्रायड सिस्टम में स्क्रीन शाट लेना और आसान हो जाएगा. अब पावर बटन को होल्ड करके स्क्रीन पर टैप करने से स्क्रीन शाट लिया जा सकेगा. हालांकि स्क्रीनशाट लेने का पुराना तरीका भी जारी रहेगा. स्क्रीनशाट के साथ ही एडिट का भी ऑप्शन आएगा. एडिट को सिलेक्ट करके स्क्रीनशाट को एडिट किया जा सकता है.

डेसबोर्ड: फोन की लत को रोकने के लिए गूगल की योजना अपने वेलबींग प्रोग्राम के माध्यम से है. प्रोग्राम अभी भी व्यापक रोलआउट के लिए तैयार नहीं है, लेकिन पिक्सेल स्मार्टफोन ऑनर डिजिटल वेलबींग बीटा में भाग लेने के लिए साइन अप कर सकते हैं. भाग लेने के लिए आपको एक पिक्सेल डिवाइस एंड्राइड 9.0 पाई चलाने की आवश्यकता होगी.

फोन रोटेशन: अपने फोन पर केवल वर्टिकल या पोर्ट्रेट मोड को लौक करने के बजाय, एंड्राइड पाई स्क्रीन रोटेशन के लिए एक बटन दिखाएगा, इस पर टैप करके स्क्रीन को बदला जा सकता है, यदि यह पता चलता है कि आपके फोन का दिशा बदल गई है.

बैटरी स्टेटस: अगर आपके पास गूगल पिक्सल फोन है तो आप एंबिएंट डिस्प्ले में सबसे नीचे बैटरी का पर्सेंटज देख सकेंगे. हालांकि यह नया नहीं है. पर इस पर क्लिक करके कुछ और जानकारियां भी मिलेंगी.

एक्सट्रा सिक्योरिटी: गूगल एंड्रायड पाई में आपकी जानकारी की सुरक्षा में सुधार करने के लिए बहुत कुछ कर रहा है, लेकिन इनमें से अधिकांश हुड के तहत किया जाता है. हालांकि, बटन प्रेस करने के साथ आपके डिवाइस को लौक कर देता है. सक्षम होने पर, यह आपको फिंगरप्रिंट सेंसर या विश्वसनीय वॉइस अनलौक डिसेबल कर देता है. इसके बाद पिन या पेटर्न पर वापस आ जाता है.

गेस्चर नेविगेशन: एंड्राइड पाई के साथ, अब आपके पास एंड्रायड के पारंपरिक तीन-बटन नेविगेशन को मिटाने का ऑप्शन है और अब यह काम गेस्चर से किया जा सकता है. एक होम बटन, वास्तव में यह एक गोली की तरह दिखता है, यह आपके थंब पर आधारित है. बटन पर टैप करके होम पर जाया जा सकता है, बैक जाने के लिए राइट स्वाइप करें, ऐप्स के बीच स्विच करने के लिए लेफ्ट स्वाइप करें, या हालिया ऐप्स या अपने ऐप ड्रावर को देखने के लिए ऊपर स्वाइप करें.

COMMENT