सरिता विशेष

अगर आप इंटरनेट इस्तेमाल करते हैं तो कुछ हद तक ये बात भी तय है कि आप फेसबुक का इस्तेमाल भी करते हों. मगर क्या आपको फेसबुक को पूरी तरह से इस्तेमाल करना आता है? फेसबुक पर बहुत सारे फीचर ऐसे हैं, जिनके बारे में ज्यादा लोगों को नहीं पता. पेश हैं कुछ ट्रिक्स, जिन्हें जानकर आप फेसबुक के उस्ताद हो जाएंगे.

इनमें से कितनी चीजों के बारे में आपको पता है…

सीक्रिट इनबॉक्स : एक और छिपा हुआ मैसेज बॉक्स

फेसबुक आपको वही मैसेज दिखाती है, जो आपके लिए महत्वपूर्ण हों. बाकी मैसेज को छिपा दिया जाता है. हममें से ज्यादातर लोग दो ही मैसेज बॉक्स के बारे में जानते हैं. एक तो सामान्य इनबॉक्स, दूसरा अदर (Other) वाला इनबॉक्स, जिसे अब मैसेज रिक्वेस्ट नाम दे दिया गया है.

इस मैसेज बॉक्स में उन लोगों के मैसेज होते हैं, जो आपकी फ्रेंडलिस्ट में नहीं हैं. यह तो अच्छा फीचर है कि गैरजरूरी लोगों के मैसेज आपको पता न चलें. मगर आपको हैरानी होगी कि फेसबुक और भी बहुत सारे मैसेज छिपा देती है.

फेसबुक वेबसाइट पर जाएं और मैसेज रिक्वेस्ट में जाएं. यहां पर आपको फिल्टर्ड मैसेज रिक्वेस्ट लिखा दिखेगा. इस पर क्लिक करें. यहां पर आपको वे मैसेज दिखेंगे, जिन्हें फेसबुक ने फिल्टर कर दिया है. वक्त-वक्त पर इस छिपे हुए मैसेज बॉक्स को भी चेक करते रहें.

की जा सकती है ऐल्बम डाउनलोड

पहले फेसबुक से फोटो ऐल्बम डाउनलोड करना बड़ा मुश्किल था, मगर अब यह बहुत आसान हो गया है. किसी भी ऐल्बम पर जाइए और कॉर्नर पर ड्रॉप-डाउन मेन्यू पर क्लिक कीजिए. यहीं से आपको ऐल्बम को अपनी हार्ड ड्राइव में सेव करने का ऑप्शन मिल जाएगा.

फालतू गेम रिक्वेस्ट करें ब्लॉक

बहुत सारे लोग गेम के रिक्वेस्ट भेजते रहते हैं, जिससे परेशानी हो जाती है. इससे मुक्ति पाने के दो ऑप्शन हैं –

1. ऐप सेटिंग्स में जाकर उस ऐप को ब्लॉक कर दें, जिसके नोटिफिकेशन नहीं चाहिए.

2. उस शख्स से आने वाले सारे ऐप रिक्वेस्ट ब्लॉक कर दें, जो आपको परेशान कर रहा हो.

आप ऐसी सेटिंग भी कर सकते हैं कि ऐप इनवाइट्स की नोटिफिकेशन ही न मिले.

लॉगइन करने पर नोटिफिकेशंस

अपने अकाउंट को इस फीचर से आप और ज्यादा सिक्यॉर कर सकते हैं. इसके लिए सेटिंग्स में जाएं, सिक्योरिटी पर क्लिक करें और यहां से 'लॉगइन करने पर नोटिफिकेशन वाले फीचर' को ऑन कर दें. ‘Get login alerts whenever someone logs in to your account’ को चुनने पर ब्राउजर, फोन या रजिस्टर्ड ईमेल अड्रेस पर लॉगइन के अलर्ट मिलने लगेंगे.

सरिता विशेष

ऐल्बम शेयर की जा सकती है

फेसबुक पर ऐल्बम को शेयर भी किया जा सकता है. लोगों को पता नहीं है कि यह भी ऑप्शन है. ध्यान रहे कि इस ऐल्बम को आपके दोस्तों के अलावा तस्वीरों में टैग हुए दोस्तों के दोस्त भी देख पाएंगे.

अडवांस्ड चैट सेटिंग्स

क्या आप कुछ लोगों से फेसबुक पर चैट नहीं करना चाहते? आप ऐसी सेटिंग कर सकते हैं कि ऐसे लोगों को आप कभी ऑनलाइन नहीं दिखेंगे.

फेसबुक पर राइट हैंड साइड बॉटम में आपको मेसेंजर दिखेगा. यहीं पर Options से आप चुन सकते हैं कि कौन-कौन दोस्त आपसे चैट कर सकते हैं, कौन-कौन आपको ऑनलाइन देख सकते हैं.

कौन-कौन आपके लाइक्स देख सकता है

हम अक्सर नए पेज वगैरह लाइक करते रहते हैं. अगर आप चाहते हैं कि लोग यह न देख सकें कि आपने कौन से पेज लाइक किए हैं, तो नीचे दिए लिंक में योर नेम (Your Name) की जगह अपना फेसबुक URL नाम भरें.

इस पेज पर पेंसिल जैसे दिख रहे आइकॉन पर क्लिक करें और यह चुनें कि कौन से पेज को दिखाना है या नहीं.

फेसबुक प्रोफाइल को पेज में बदलें

कई बार ऐसा होता है कि आप कोई बिज़नस शुरू करते हैं तो उसके पेज के बजाय प्रोफाइल बना देते हैं. फेसबुक ऐसी प्रोफाइल्स को डिलीट कर रही है. इसलिए बेहतर होगा कि आप अपनी ऐसी फेसबुक प्रोफाइल को पेज में तब्दील कर दें. इससे आपके फ्रेंड्स उस पेज के पैन में बदल जाएंगे. इसके लिए आपको फेसबुक प्रोफाइल टू पेज माइग्रेशन प्रोसेस शुरू करना होगा.

मेसेंजर के जरिए ऊबर से कैब बुलाएं

फेसबुक मेसेंजर में कई सारे छिपे हुए ट्रिप्स हैं. जल्द ही यह आपके ज्यादातर ऐप्स के लिए प्राइमरी कनेक्शन बन सकता है. अभी आप इससे ऊबर कैब भी बुला सकते हैं. बस इसके लिए आपको शुरुआती सेटिंग्स करनी होंगी और इसे ऊबर अकाउंट से लिंक करना होगा. कैब बुलाने के लिए आपको कार के ऑइकॉन पर क्लिक करना होगा या फिर ऊबर बॉट को मैसेज करके कार की जरूरत के बारे में बताना होगा. बॉट आपको किराए और यात्रा में लगने वाले वक्त के बारे में बताएगा और कैब के आ जाने पर सूचित भी करेगा.

लेगसी कॉन्टैक्ट जोड़ें

अगर किसी यूजर की मौत हो जाए तो फेसबुक डेथ सर्टिफिकेट लेकर उस पेज या प्रोफाइल को ममॉरिअलाइज कर देती है यानी यादगार के रूप में सहेज लेती है. आप अभी से तय कर सकते हैं कि आपको कुछ हो जाने पर किसके पास यह अधिकार रहेगा कि वह फेसबुक को आपकी मृत्यु के बारे में सूचित करेगा. इसके लिए सेटिंग्स में सिक्यॉरिटी पर जाएं और अपने फेवरिट व्यक्ति को Legacy contact बना दें. अगर आप नहीं चाहते कि आपके निधन के बाद आपके अकाउंट को ममॉरिअलाइज किया जाए तो फेसबुक उसे डिलीट कर देगी.