स्विट्जरलैंड के वैज्ञानिकों ने एक नया सॉफ्टवेयर बनाया है जिससे किसी इमारत की 3डी मैपिंग मोबाइल फोन या टैबलेट से की जा सकती है. ईटीएच ज्यूरिक के विजुअल कंप्यूटिंग संस्थान के शोधछात्र थॉमस स्कोप्स और उनके दल ने इस सॉफ्टवेयर का विकास किया है.

यह सॉफ्टवेयर वर्तमान में उपलब्ध सॉफ्टवेयरों से कई मायनों में अच्छा है. उदाहरण के लिए इसे दिन की रोशनी में प्रयोग किया जा सकता है. जबकि बाकी सॉफ्टवेयरों से रात में ही 3डी मैपिंग संभव है.

स्कोप्स ने इस सॉफ्टवेयर का विकास इंफरेमेटिक्स के प्रोफेसर मार्क पोलेफेस के नेतृत्व में शोधकर्ताओं के दल के साथ मिलकर किया. यह शोध गूगल के टैंगो परियोजना के तहत किया गया जिसे कंपनी दुनिया भर के 40 विश्वविद्यालयों में चला रही है और ईटीएच जुरिच भी उनमें से एक है.

यह नया सॉफ्टवेयर दो तस्वीरों के विश्लेषण के आधार पर 3डी मैपिंग करता है जबकि बाकी तकनीक में इंफ्रारेड किरणों की मदद से यह काम किया जाता है. स्कोप्स ने बताया कि यह तकनीक फिलहाल विकास के चरण में है और इसका इस्तेमाल शुरू करने में अभी वक्त लगेगा.

इस तकनीक की खास बात यह है कि भविष्य में इसे कारों में भी लगाया जा सकेगा. इससे सड़क के किनारों या पार्किंग में कितनी जगह खाली है इसका सटीक अंदाजा लगाया जा सकेगा.