नेहा सोचती थी कि अगर वह फेसबुक से जुड़ेगी तो उस की पर्सनल लाइफ सब के सामने उजागर हो जाएगी. इसी कारण उसे फेसबुक पसंद न था बल्कि उस के फ्रैंड्स उसे फेसबुक से जुड़ने को कहते तो वह इसे टाइम वेस्ट बताती.
नेहा पढ़ाई में अपने अन्य फै्रंड्स के मुकाबले काफी होशियार थी. एक बार उन्हें डिफरैंट प्रोजैक्ट्स पर काम करने को मिला. नेहा ने अपनी सोच के अनुसार प्रोजैक्ट पर अच्छा काम किया, लेकिन उस में उस का सिर्फ अपना ही नजरिया था. उस के बाकी सभी फ्रैंड्स ने अपने विचारों के साथसाथ उस में फेसबुक के माध्यम से मिली बाकी लोगों की राय भी जोड़ दी. जिस कारण वे नेहा से बाजी मार ले गए. नेहा भूल गई थी कि रिसर्च वर्क में सिर्फ अपनी राय ही काम नहीं आती बल्कि अलगअलग विचारों को जोड़ना ज्यादा अच्छा रहता है.

नेहा जैसे अधिकांश युवा यही सोचते हैं कि फेसबुक सिर्फ चैटिंग व फोटोज अपलोड करने का माध्यम है, लेकिन ऐसा नहीं है. फेसबुक तो आज एक ऐसा सोशल प्लेटफौर्म बन गया है, जहां आप मस्ती करने के साथसाथ अपना व दूसरों का भी ज्ञान बढ़ा सकते हैं. यहां तक कि आपदाओं के समय भी सोशल नैटवर्क के जरिए एक बड़ा प्लेटफौर्म तैयार किया जा सकता है.

क्यों खास है फेसबुक

अपनों से जोड़े रखे

यूथ पर आजकल पढ़ाई व जौब का इतना अधिक तनाव है कि वे हर रोज किसी से मिलने के लिए समय नहीं निकाल पाते. ऐसे में अगर हमारा अधिक दिन तक किसी से संपर्क टूटता है तो रिलेशन में दूरियां न चाहते हुए भी बन जाती हैं. ऐसे में सोशल मीडिया हमें अपनों से जोड़े रखता है. भले ही हम कितने ही बिजी क्यों न हों, लेकिन फेसबुक के लिए समय तो निकाल ही लेते हैं, जिस के जरिए हम अपने करीबियों का हालचाल पूछ सकते हैं. यहां तक कि उन के जीवन में क्या कुछ खास चल रहा है इस की जानकारी भी फेसबुक पर उन के द्वारा अपलोड किए फोटोज से मिल जाती है.

एक प्रौब्लम, हजार सौल्यूशन

अपनी प्रौब्लम खुद ही झेलते रहने से जहां तनाव पैदा होता है, वहीं प्रौब्लम का सही सौल्यूशन भी नहीं मिल पाता. ऐसे में फेसबुक पर जहां आप की फ्रैंडलिस्ट में ढेरों फ्रैंड्स जुड़े होते हैं, आप अपनी  प्रौब्लम जिसे आप काफी दिन से झेल रहे हैं को फेसबुक के माध्यम से साझा भी कर सकते हैं. जैसे अगर आप की प्रौब्लम है कि आप डाइटिंग करने के बावजूद अपना वजन नहीं घटा पा रहे हैं, जिस से आप का कौन्फिडैंस लूज हो रहा तो ऐसे में आप को फै्रंड्स के ढेरों सुझाव मिल जाएंगे. हो सकता है कि आप को इस प्रौब्लम पर डाइटीशियन की सलाह भी मिल जाए जो आप के काफी काम आए. फेसबुक सिर्फ मस्ती का साधन नहीं बल्कि प्रौब्लम्स का बैस्ट सौल्यूशन मिलने में भी काफी मददगार है.

दूरदराज रहने वालों से भी लिंक

आज टैक्नोलौजी ने दूरियों को नजदीकियों में बदल दिया है. अब हमें टैक्नोलौजी इस बात का एहसास ही नहीं होने देती कि हमारे भाईबहन हम से दूर विदेश में हैं, क्योंकि जब भी हमें उन की याद सताती है तो हम औनलाइन हो कर न सिर्फ उन से चैटिंग कर सकते हैं बल्कि फेसबुक के वीडियो कौलिंग फीचर के जरिए एकदूसरे को देख भी सकते हैं. हमारे फेस ऐक्सप्रैशंस हमारे मन की फीलिंग्स को साफ दर्शा देते हैं. इस तरह फेसबुक के जरिए हमारी एकदूसरे से कनैक्टिविटी भी बनी रहती है.

डिप्रैशन से भी नजात

युवाओं की जिंदगी में ब्रेकअप आम बात हो गई है, लेकिन ब्रेकअप जैसी स्थिति से उबरने में उन्हें लंबा समय लग जाता है. इस दौरान उन्हें महसूस होता है जैसे उन की जिंदगी थम सी गई है. ऐसी स्थिति में फेसबुक उन का अच्छा दोस्त साबित होता है.अत: ऐसे में अकेले रहने से अच्छा है फेसबुक से जुड़ना. उस पर नएनए दोस्त बनाएं. हो सकता है कि आप का कोई ऐसा दोस्त बन जाए जो आप को उस दर्द से बाहर निकालने में मददगार हो.जब आप खुद को इस तरह व्यस्त रखेंगे तो आप को पुरानी बातें भूलने में ज्यादा समय नहीं लगेगा और आप की जिंदगी फिर से सामान्य हो जाएगी.

जीवनसाथी मिलना भी संभव

जिस फै्रंड से आप फेसबुक के जरिए लंबे समय से जुड़े हुए हैं, वही फै्रंड जब आप को खुद से भी ज्यादा प्यारा लगने लगे तो जिंदगी रंगीन हो जाती है. ऐसा ही कुछ इश्ति के साथ भी हुआ. उसे फेसबुक पर एक युवक ने फ्रैंड रिक्वैस्ट भेजी. दिखने में वह काफी हैंडसम  लग रहा था, इसलिए इश्ति ने उस का औफर ऐक्सैप्ट कर लिया. शुरुआत में दोनों के बीच बहुत कम बातें होती थीं, लेकिन धीरेधीरे दोनों एकदूसरे की जिंदगी का अनिवार्य हिस्सा बन गए. यहां तक कि उन्होंने एकदूसरे की खूबियों को जान कर शादी का फैसला भी ले लिया यानी उन की फेसबुक की दोस्ती ने उन की जिंदगी में खुशियां भर दीं. इश्ति अकेली ऐसी युवती नहीं है बल्कि उस जैसी और भी कई युवतियां हैं जिन्हें फेसबुक के जरिए अपना हमसफर मिला है.

फेसबुक करता है ग्रूमिंग

अगर आप काफी सिंपल लुक वाली युवती हैं और आप को ड्रैस, मेकअप आदि की जरा भी सैंस नहीं है जिस कारण आप अटै्रक्टिव नहीं दिख पातीं तो ऐसे में फेसबुक आप की ग्रूमिंग करता है. जब आप अपनी जैसी फिजीक वाली युवती के फोटो फेसबुक पर देखती हैं, जिन में उस ने भले ही सिंपल से कपड़े पहने हों, लेकिन उस के साथ ऐक्सैसरीज का कौंबिनेशन साथ में डिफरैंट हेयरस्टाइल बनाया हुआ हो, जिस से उस का लुक बिलकुल अलग लग रहा हो और उसे ढेरों लाइक्स भी मिले हों, तो ऐसे में आप भी उस से प्रभावित हुए बिना नहीं रह पाएंगी. इस तरह फेसबुक आप को खुद को बदलने का मौका देता है.

लाइक्स से बढ़े कौन्फिडैंस

ह्यूमन नेचर होता ही ऐसा है जब हमें किसी की तारीफ मिल जाती है तो हम फूले नहीं समाते और उस से हमारा कौन्फिडैंस भी बढ़ता है. जैसे अगर हम ने कोई नई ड्रैस खरीदी और उसे पहन कर किसी पार्टी में जा रहे हैं तो हम मन ही मन यह सोच कर परेशान हो जाते हैं कि हम अच्छे दिख रहे हैं कि नहीं. लेकिन अगर हम उस ड्रैस को पहन कर फोटो शूट कर के उसे फेसबुक पर अपलोड करें और फिर लाइक्स का इंतजार करें तो अंदाजा लग जाएगा कि इस ड्रैस में हम अच्छे लग रहे हैं कि नहीं. इस से आप का कौन्फिडैंस खुद ब खुद बढ़ जाएगा.

गुड कैरियर औपर्च्युनिटी भी

भले ही आप अपनी फील्ड के बारे में सबकुछ जानते हों, लेकिन जब तक आप के हुनर के बारे में लोगों को पता नहीं चलेगा, तब तक आप को गुड कैरियर औपर्च्युनिटी नहीं मिल पाएगी. इसलिए आप अपने कैरियर व अपनी क्षमताओं के बारे में फेसबुक पर बताएं. जैसे आप लेख लिखते हैं तो उन्हें अपने फै्रंड्स के साथ शेयर करें. हो सकता है कि आप के लेख को कोई ऐसा व्यक्ति पढ़ ले जिस से आप के कैरियर को नई दिशा मिल जाए. जैसे निशा को मिली. स्टार प्लस पर ‘निशा और उस के कजिन’ सीरियल के डायरैक्टर ने उसे देखते ही ऐक्ंिटग के लिए बुला लिया. उस समय उस को अंदाजा भी नहीं था कि फेसबुक से उस के कैरियर को नई दिशा मिलेगी.

इन्फौर्मेशन कलैक्शन का जरिया भी

आप की अगर किसी नए शहर में नौकरी लगी है और आप यही सोच कर परेशान हैं कि कैसे वहां खानेपीने की व्यवस्था होगी, किस जगह ठहरा जाए, रूम कैसे मिलेगा, तो ऐसे में आप को परेशान होने की जरूरत नहीं, बल्कि आप अपनी पोस्ट में डाल दें कि आप को फलां शहर के बारे में जानकारी चाहिए. हो सकता है कि आप की फ्रैंडलिस्ट में कोई ऐसा फैं्रड हो जो वहां का ही रहने वाला हो, जिस से आप को बहुत महत्त्वपूर्ण जानकारी मिल जाए और वहां जाने पर वह आप के काम आए.

सरप्राइज का जरिया भी

अगर आप अपने फ्रैंड से बहुत दूर हैं और उसे उस के बर्थडे पर गिफ्ट नहीं दे पा रहे हैं तो उसे फेसबुक के जरिए सरप्राइज दें. आप दोनों ने जो पल साथसाथ बिताए उस का कोलाज बना कर उस के बर्थडे वाले दिन उसे फेसबुक पर पोस्ट करें. आप के इस यूनीक गिफ्ट को देख कर वह खुशी से फूला नहीं समाएगा.

बिजनैस प्रमोशन का जरिया

फेसबुक के माध्यम से आप अपने बिजनैस को प्रमोट भी कर सकते हैं. जैसे अगर आप ने टिफिन सिस्टम शुरू किया है और आप के पास अपने नए बिजनैस का प्रचार करने के लिए पैसे नहीं हैं तो आप फेसबुक पर शब्दों और इमेज के माध्यम से अपना छोटा सा विज्ञापन तैयार कर लोगों तक अपने प्रौडक्ट या बिजनैस की इन्फौर्मेशन पहुंचा सकते हैं. इस से निश्चित ही आप को बिजनैस में फायदा होगा.