सरिता विशेष

बौल टैम्‍परिंग विवाद ने औस्‍ट्रेलियाई क्रिकेट टीम की प्रतिष्‍ठा को करारा आघात पहुंचाया है. इस मामले में टीम के दिग्‍गज खिलाड़ी स्‍टीव स्मिथ और डेविड वार्नर की छवि क्रिकेट प्रेमियों के बीच ‘विलेन’ की बन चुकी है. क्रिकेट औस्ट्रेलिया ने पहले से ही दोषी खिलाड़ियों पर कड़ा रुख अख्तियार करते हुए उनपर एक-एक साल का बैन लगाने के साथ ही दोनों खिलाड़ि‍यों को औस्‍ट्रेलिया लौटने के निर्देश भी दे दिए गए हैं.

बौल से छेड़छाड करने के मामले को लेकर और इतनी फजीहत झेलने के बाद दक्षिण अफ्रीका से वापस औस्ट्रेलिया लौटते समय स्मिथ को जोहान्सबर्ग एयरपोर्ट पर अपने प्रशंसको की नाराजगी का सामना भी करना पड़ा. एयरपोर्ट पर स्टीव स्मिथ ने पत्रकारों के किसी सवाल का जवाब नहीं दिया. लेकिन इस दौरान एयरपोर्ट पर मौजूद लोगों ने ‘धोखेबाज-धोखेबाज’ के नारे लगाए.

एयरपोर्ट पर लोगों की भीड़ धोखाबाज कह कर हूटिंग कर रही थी और स्टीव स्मिथ किसी तरह वहां से जल्दी से जल्दी निकलने की कोशिश में थे. स्मिथ को पत्रकारों और लोगों से बचाने के लिए एयरपोर्ट पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई थी.

गौरतलब है कि केपटाउन टेस्‍ट के दौरान औस्ट्रेलिया के कैमरन बैनक्राफ्ट को पीले रंग की पट्टी से गेंद को रगड़ने का दोषी पाया गया था. हालांकि उनकी यह हरकत मैदान में मौजूद कैमरामैन की नजरों से नहीं बच पाई. कैमरे ने उन्‍हें गेंद से छेड़खानी की कोशिश करते पकड़ लिया और इस मामले ने तूल पकड़ लिया. स्टीव ने खुद गेंद से छेड़छाड़ करने की बात भी स्वीकार की थी. जिसके बाद स्मिथ को टीम की कप्‍तानी से भी हटा दिया गया. इतना ही नहीं इन इस वाकये के बाद से यह सभी खिलाड़ी आलोचकों के निशाने पर हैं.